वाहजी ये कोई बात हुई बिना टिकिट सफर करने वाला होशियार, हमने टिकिट लिया तो हम बेवकूफ़….पूरा चुटकला पढने के लिए ओपन करे लिंक को ..

वाहजी ये कोई बात हुई बिना टिकिट सफर करने वाला होशियार,
हमने टिकिट लिया तो हम बेवकूफ़

पठान के 3 बच्चे हुए… नाम रखा…
(1) हसरत खान( 2) हरकत खान (3) बरकत खान
फिर 3 बच्चे हुए, नाम रखा…
(1) दरिया खान (2) समंदर खान (3) सैलाब खान
फिर 3 बच्चे हुए, नाम रखा…
(1) हिम्मत खान (2) हौसला खान (3) बर्दाश्त खान
फिर 3 बच्चे हुए…
इस बार बीवी ने नाम रखा…
(1) बस कर खान (2) शर्म कर खान (3) रहम कर खान..
!! साढू भाई!
बेटा:पापा ये साढू भाई का कौन सा रिश्ता है?
पापा:
जब दो अंजान व्यक्ति एक ही कंपनी द्वारा ठगे जाते है
तो आपस मे साढू कहलाते है।
ट्रेन में वार्निंग लिखी थी…
बिना टिकिट सफर करने वाले यात्री होशियार!
सरदारजी इतनी लाइन पढ़ कर बिफर गये:
वाहजी ये कोई बात हुई बिना टिकिट सफर करने वाला होशियार,
हमने टिकिट लिया तो हम बेवकूफ़

Leave a Comment

Your email address will not be published.